I am Dedicated, Multitasking Person

You Learn More From Failure Than From Success. Don’t Let It Stop You. Failure Builds Character.” – Unknown Cricket we love you

02

मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ देंगे गौतम अडानी, बन जाएंगे एशिया के सबसे अमीर शख्स

ब्लूमबर्ग की दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची ‘Bloomberg Billionaires Index’ में गौतम अडानी 14वें स्थान पर पहुंच गए हैं. वह रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुकेश अंबानी से महज एक स्थान पीछे हैं और अब एशिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं. अंबानी इस समय एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं. अडानी ने चीन के झोंग शानशान को पछाड़कर ये मुकाम हासिल किया है.

गौतम अडानी की संपत्ति में 2021 के दौरान तेजी से बढ़त दर्ज की गई है. इस साल यानी जनवरी से अब तक उनकी संपत्ति में 32.7 अरब डॉलर (करीब 2.38 लाख करोड़ रुपये) का इजाफा हो चुका है. ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के अनुसार गौतम अडानी की कुल संपत्ति 67.6 अरब डॉलर (करीब 4.93 लाख करोड़ रुपये) है.

गौतम अडानी की संपत्ति में इस जबरदस्त बढ़ोत्तरी की वजह शेयर बाजार में उनके समूह की लिस्टेड कंपनियों का वैल्यूएशन बढ़ना है. इसके चलते उनकी निजी नेटवर्थ में भी विस्तार हुआ है. अब उनकी संपत्ति मुकेश अंबानी से महज 8.7 अरब डॉलर (करीब 63,530 करोड़ रुपये) ही कम रह गई है. अडानी के इतने तेज बढ़ने से क्या वो वाकई अंबानी को पीछे छोड़ देंगे, तो जवाब है नहीं, लेकिन क्यों?

बिजनेस टुडे की खबर के मुताबिक क्या अडानी वाकई में अंबानी को पीछे छोड़ देंगे तो इसका सीधा जवाब है ‘नहीं’. इसकी बड़ी वजह मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंस रिटेल जैसी कंपनियों का होना है. भले रिलायंस इंडस्ट्रीज का सऊदी अरामको के साथ सौदा अभी पूरा ना हो पाया हो और फ्यूचर रिटेल को लेकर कानूनी विवाद का सामना करना पड़ रहा हो, लेकिन ये दो कंपनियां रिलायंस के लिए तुरुप का पत्ता हैं. आगे जानें कैसे?

पिछले साल कोरोना काल जैसे विकट समय में मुकेश अंबानी ने जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंस रिटेल की हिस्सेदारी बेचकर बड़ी राशि जुटाई. दोनों इकाइयों ने कुल मिलाकर करीब 2 लाख करोड़ रुपये की पूंजी हासिल की. इस निवेश की बदौलत अभी जियो प्लेटफॉर्म्स की वैल्युऐशन करीब 4.36 लाख करोड़ रुपये और रिलायंस रिटेल की वैल्यु करीब 4.6 लाख करोड़ रुपये बैठती है.

रिलायंस रिटेल और जियो प्लेटफॉर्म्स दोनों ही आने वाले सालों में मुकेश अंबानी के लिए सोने की खान साबित हो सकती है. दोनों ही कंपनियों का बाजार आने वाले दिनों में बढ़ने की उम्मीद है. विशेष तौर पर जैसे-जैसे देश में 5जी सेवाओं का विस्तार होगा जियो प्लेटफॉर्म्स का कारोबार भी बढ़ेगा. ऐसे में इस बात की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता कि आने वाले समय में रिलायंस इंडस्ट्रीज इन दोनों कंपनियों का IPO लाए.

बीते साल रिलायंस की जियो प्लेटफॉर्म्स में हुए भारी निवेश के चलते मुकेश अंबानी ने भी ‘Bloomberg Billionaires Index’ में तेजी से बढ़त हासिल की थी. अगस्त 2020 में अरबपतियों की सूची में वह वारेन बफेट और लैरी पेज तक को पीछे छोड़कर चौथा स्थान पाने में सफल रहे थे, और 2020 के अंत तक आते-आते वह शीर्ष-10 की सूची से भी बाहर हो गए थे.

‘Bloomberg Billionaires Index’ के मुताबिक मुकेश अंबानी की संपत्ति में गिरावट आना जारी है. 21 मई 2021 तक मुकेश अंबानी साल भर में 39.8 करोड़ डॉलर की संपत्ति गंवा चुके हैं. उनकही नेटवर्थ गिरकर 76.3 अरब डॉलर (करीब 5,556 अरब रुपये) पर आ गई है. ऐसे में गौतम अडानी और मुकेश अंबानी के बीच संपत्ति का फासला जरूर कम हो रहा है, लेकिन अभी तक मुकेश अंबानी ने जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंय रिटेल की संभावनाओं का लाभ ही नहीं उठाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *